गुड़हल के ये फायदे जानकर आप जरूर चौंक जाएंगे - Gudhal ke fayde in Hindi.

अगर स्वास्थ की दृष्टि से देखा जाए तो यह पौधा अनेकों तरह के औषधीय गुणों से भरपूर होता है।
सामान्य भाषा में इसे गुड़हल या जवाकुसुम के नाम से जाना जाता है।
यह मालवेसी फैमिली से जुड़ा पौधा है जिसकी जड़ तना पत्तियां व फूल कई तरह के स्वास्थ लाभ प्रदान करने वाले होते हैं।
गुड़हल के फूल व पत्तों के फायदे - Gudhal ke fayde in Hindi

गुड़हल के फूल व पत्तों के फायदे - Gudhal ke fayde in Hindi



गुड़हल के फायदे बालों के लिए -

अगर आप बालों से जुड़ी किसी भी तरह की समस्या से परेशान हो तो गुड़हल का यह पौधा आपके लिए बेहद लाभदायक सिद्ध होगा।
बालों का झड़ना, रूसी, डेंड्रफ, जैसी कई तरह की समस्याओं के लिए आप गुड़हल के पत्तों को जैतून के पत्तों के साथ पेस्ट बनाकर इस्तेमाल कर सकते हो।
इससे बाल घने होंगे, बालों का टूटना बंद होगा और चमकदार होने के साथ साथ उन्हें मजबूती मिलेगी।
इसके अलावा नारियल के तेल में इसके पत्ते पकाकर अपने सिर की मालिश करने पर भी बालों से जुड़ी तमाम समस्याएं खत्म हो जाती हैं।

पथरी जैसी समस्याओं को जड़ से खत्म करने के लिए गुड़हल -

पथरी यानी स्टोन के मरीजों के लिए भी गुड़हल के फूल एक रामबाण औषधि की तरह काम करते हैं।
अगर आप पित्ताशय की पथरी या गुर्दे की पथरी की समस्या से जूझ रहीं हैं तो नियमित रूप से गुड़हल के फूलों को सुखाकर इनका पाउडर बना लें और पानी के साथ लें।
कुछ ही दिनों में पथरी की समस्या खत्म हो जाएगी।

कोलेस्ट्रॉल के लिए -

इसके अलावा कोलेस्ट्रॉल के मरीजों के लिए इसके पत्तों की चाय भी बेहद फायदेमंद है।
यह हमारे शरीर में एलडीएल या खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करती है और एचडीएल यानी अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने में काफी फायदेमंद है।
इसमें पाई जाने वाली प्रॉपर्टीज धमनियों में प्लेग को जमने से रोकती हैं जिसके कारण दिल से जुड़ी कई तरह की समस्याओं का खतरा कम हो जाता है।

शुगर के लिए -

गुड़हल के पत्तों की चाय में हाइपोलिपिडेमिक और हाइपोग्लाइसेमिक गुण मौजूद होता है जो हमारे शरीर में होने वाली ब्लड शुगर जैसी समस्याओं को खत्म करने में कारगर है।

खून की कमी दूर करने के लिए -

साथ ही साथ एनीमिया की कंडीशन से निजात दिलाने के लिए भी आप इसके फूलों का इस्तेमाल कर सकते हो।
गुड़हल के फूल में आयरन की अधिकतम मात्रा पाई जाती है प्रतिदिन गुड़हल के फूलों का रस पीने से एनीमिया की कंडीशन खत्म होने के साथ साथ स्टेमिना बढ़ाने में मदद मिलती है।
स्पोर्ट्स पर्सन्स के लिए गुड़हल के फूलों का रस जानदार साबित होता है।

महिलाओं में होने वाली समस्याओं में -

इसके पत्तों की चाय महिलाओं में होने वाली मासिक धर्म से जुड़ी कई तरह की समस्याओं के लिए बेहद लाभदायक सिद्ध होती है।
क्योंकि शरीर में एस्ट्रोजन के लेवल में कमती के कारण हार्मोन्स का बैलेंस बिगड़ जाता है जिसकी वजह से मासिक धर्म अनियमित हो जाता है इस तरह की समास्याओं में गुड़हल के पत्तों से बनी चाय एक अचूक औषधि की तरह काम करती है।


एंटी एजिंग के रूप में -

गुड़हल की पत्तियों का पेस्ट हमारे लिए एंटी एजिंग का भी काम करता है।
इसमें हमारी त्वचा से फ्री रेडिकल्स को हटाने की अद्भुत क्षमता होती है जिसके कारण त्वचा में गोरापन अंदर से उभरता है। और त्वचा जवान और खूबसूरत नजर आने लगती है, साथ ही साथ यह त्वचा पर आने वाली झुर्रियों की प्रक्रिया को धीमा कर देती हैं
जिससे अंत तक हमारी त्वचा में कसावट रहती है।
इसके अलावा मोटापे से परेशान व्यक्ति भी गुड़हल की चाय का इस्तेमाल कर अपने वजन को आसानी से कम कर सकता है।

वजन कम करने में है मददगार -

यह हमारी बार बार भूख लगने की प्रक्रिया को कम कर देता है, अध्यन बताते हैं कि गुड़हल की चाय हमारे अंदर स्टार्च और ग्लूकोज के अवशोषण का काम करती है।
जिससे वजन कम करने में बहुत अधिक मदद मिलती है और शरीर में फालतू की चर्बी भी जमा नहीं हो पाती।
गुड़हल की चाय काफी ऊर्जावान होती है जो हमें अधिक देर तक भूखा रहने में मदद करती है जिससे पाचन सुधरता है और वजन तेजी से घटने लग जाता है।

त्वचा से जुड़ी समस्याओं के लिए -

इसकी पत्तियों में आयरन, विटामिन सी और एंटी एजिंग का गुण पाया जाता है जो हमारी त्वचा पर होने वाले दाग धब्बे, कील मुहांसे, झुर्रियां जैसी कई समस्याओं में फायदेमंद है।
इसके लिए गुड़हल की पत्तियों को पानी में उबालकर शहद के साथ मिक्स करके अपनी त्वचा पर अप्लाई करें।
इसकी पत्तियों का पेस्ट सूजन और जलन में भी काफी लाभदायक सिद्ध होता है।

सर्दी जुकाम आदि में -

सर्दी जुखाम के लिए भी आप इसके पत्तों से बनी चाय का इस्तेमाल कर सकते हो यह चाय विटामिन सी से भरपूर होती है जो सर्दी जुकाम में आपको आराम देती है।
अगर आप डिप्रेशन के शिकार हो तो भी आप इसकी चाय बनाकर पी सकते हो, इसमें मौजूद मूड फ्रेशनर्स की वजह से यह आपको खुशनुमा बनाएगी।

गुड़हल के अन्य फायदे -

  1. इसके अलावा मुंह के छालों में इसकी पत्तियां चबाने से छाले ठीक हो जाते हैं।
  2. अगर आप गुड़हल की फूल पत्तियों का पाउडर बनाकर दूध के साथ लेते हो तो यह एक अच्छे मेमोरी बूस्टर का काम करता है।
  3. गुड़हल का फूल एंटीऑक्सीडंट्स से भरपूर होता है जो कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी को रोकने में काफी फायदेमंद साबित होता है।
  4. इन सब के अलावा यह कब्ज, अल्जाइमर रोग, सफेद बाल, खराब पाचन, थ्रस्ट आदि के लिए एक चमत्कारी दवा है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें