कमर और पेट की चर्बी कम करने के लिए 21 घरेलू उपाय - Motapa Kam Karna.

(motapa kam karna) पेट और कमर की चर्बी कम करने के बेस्ट घरेलू उपाय और तरीके - जब भी मोटापा या पेट कम करने की बात की जाती है तो अक्सर अपने खानपान में सुधार लाने और लाइफ स्टाइल बदलने की सलाह दी जाती है।
क्योंकि अगर आपका खानपान सही होगा और प्रॉपर डेली एक्टिविटी होगी तो सामान्यतौर पर आपका मोटापा या पेट बिल्कुल भी नहीं बढ़ेगा।
कई ऐसी भी समस्याएं होती हैं जिनकी वजह से सब कुछ सामान्य रहने के बावजूद भी आपका मोटापा बढ़ने लग जाता है।
इस स्थति में सबसे ज्यादा जरूरत होती है उन कारणों को खत्म करने की जिनकी वजह से आपके पेट या मोटापे में इजाफा हुआ है।
बढ़ा हुआ पेट न केवल आपकी पर्सनैलिटी को प्रभावित करता है बल्कि आपके शरीर में कई तरह की घातक समस्याओं को भी जन्म देता है।


Motapa kam Karna
Motapa kam Karna.
इस पोस्ट के अंदर हम बात करने वाले हैं पेट कम करने के घरेलू उपाय, मोटापा कम करने का नुस्खा, पेट की चर्बी कैसे कम करें, पेट और कमर की चर्बी कम करने का तरीका, motap kam karna.
साथ ही आप जानेंगे इसके सभी कारणों और कुछ प्रभावी और असरदार घरेलू व आयुर्वेदिक नुस्खों के बारे में।
जिनकी मदद से आप बहुत ही जल्दी अपने बढ़े हुए पेट को आसानी से बहुत ही जल्दी कम कर सकते हो।

(और पढ़ें : पेट कम करने का उपाय)

Motapa Kam Karna | कमर और पेट की चर्बी कम करने के लिए 21 घरेलू उपाय।

मोटापा या पेट बढ़ने के प्रमुख कारण (Causes of obesity in Hindi) -

पेट (मोटापा) जरूरत से ज्यादा बढ़ने के कई सारे कारण जिम्मेदार हो सकते हैं।
जिनमें मुख्य रूप से हैं -

गलत खानपान की आदतें -

चर्बी को बढ़ाने के लिए आपका खानपान सबसे ज्यादा जिम्मेदार होता है।
अगर आपका खानपान ही बेहतर नहीं है तो आप जितने भी यतन करके देख सकते हो मोटापा आपमें फिर बढ़ ही जाएगा।
अतः सबसे पहले अपने खानपान में सुधार करें।

शारीरिक श्रम या गतिविधियों का अभाव -

अगर आप शारीरिक रूप से निष्क्रिय हैं या आपकी लाइफ स्टाइल ही कुछ ऐसी है कि आपको शारीरिक श्रम की जरूरत ही नहीं होती तो मोटापे के लिए यह दूसरा सबसे बड़ा कारण हो सकता है।

कई प्रकार की बीमारियां -

कई बार कुछ बीमारियों के चलते भी आपमें पेट की चर्बी बढ़ने की स्थति बन सकती है।
यह स्थति आपके अंदर उस बीमारी के लिए दी जाने वाली दवाओं की वजह से भी आ सकती है।

अनुवांशिकता -

कई लोगों में आनुवंशिक कारणों की वजह से भी मोटापा देखा गया है।
अगर आपका कोई करीबी परिवार जन यदि इस तरह की स्थति में है तो संभव है आप भी इससे पीड़ित हो सकते हो।

अत्यधिक तनाव की स्थिति में रहना -

तनाव मोटापा या पेट बढ़ने का तीसरा सबसे बड़ा कारण हो सकता है।
कई लोगों को लंबे समय तक तनाव की स्थति से होकर गुजरना पड़ता है यह स्थति अंत में उसके लिए मोटापे को जन्म से सकती है।

रहन सहन की गलत आदतें -

वजन को प्रभावी रूप से बढ़ाने में आपका रहन सहन यानी लाइफ स्टाइल भी बहुत बड़ा कारण बन सकती है।

पाचन क्रिया से जुड़ी तमाम समस्याएं -

अगर आपका पाचन और उपापचय सही नहीं होगा तो निश्चित रूप से आपमें मोटापे के साथ और भी कई समस्याएं घर कर लेंगी।
जो आगे जाकर आपके लिए गंभीर भी साबित हो सकती हैं अतः इन्हें शुरुआत से ही सुधार लेना बेहतर होता है।

शरीर में हार्मोनल परिवर्तन होना -

कई बार शरीर में होने वाले हार्मोनल परिवर्तनों की वजह से अनजाने में ही लोगों को मोटापे का शिकार होना पड़ जाता है।
यह स्थति महिलाएं में अधिक पाई जाती है।

(और पढ़ें : बवासीर का इलाज)

मोटापा कम करने के लिए अपनाएं ये सरल असरदार घरेलू नुस्खे।

मोटापे या बढ़े हुए पेट की समस्या को कम करने के लिए कई ऐसे तरीके और घरेलू उपाय हैं जिनकी मदद से आपको अपनी इस समस्या में बहुत ही बेहतर परिणाम मिलता है।
अगर आप पूरी लगन और विश्वास से इनका पालन करते हो तो निश्चित रूप से आप कुछ ही समय में अपने मोटापे को कंट्रोल कर सकते हो।
इसके लिए हमने आपको कुछ बेहतर और प्रभावी उपाय बताए हैं एक बार इनका इस्तेमाल करके जरूर देखें।
हमें विश्वास है आपको इनसे मनचाहा परिणाम जरूर मिलेगा।
Motapa kam Karna
Motapa kam Karna.

1. एलोवेरा और आंवले का ज्यूस -

मोटापा कम के लिए एलोवेरा एक बेहद ही प्रभावी औषधि माना जाता है।
इसका उपयोग आप अपने बालों व त्वचा के लिए भी बखूबी कर सकते हो।
इससे बालों व त्वचा में चमक आने के साथ साथ यह आपको शारीरिक रूप से ताकत भी देता है।
पेट कम करने के लिए इसे अदरक और आंवले के ज्यूस के साथ इस्तेमाल किया जाता है।
जो एक महीने के अंदर आपका दो से चार किलो तक वजन आसानी से कम कर देता है।
(और पढ़ें : गोरा होने के उपाय)

क्या चाहिए -

  • आंवले का ज्यूस 3 चम्मच
  • एलोवेरा का गूदा 2 चम्मच
  • अदरक का रस 1 चम्मच

कैसे तैयार करें -

सबसे पहले तीन चम्मच आंवले का ज्यूस लेकर उसमें दो चम्मच एलोवेरा का गूदा मिला दें।
अब इसे अच्छे से फेंटे ताकि आंवले और एलोवेरा का रस आपस में अच्छे से मिल जाए।
एलोवेरा के गुदे की जगह आप रेशेदार एलोवेरा ज्यूस का भी इस्तेमाल कर सकते हो।
इसके बाद इसमें एक चम्मच अदरक का रस मिला दें।

कैसे इस्तेमाल करें -

उपयोग में लेने के लिए आप इसे हर बार ताजा तैयार करें व सुबह शाम खाली पेट नियमित रूप से इस्तेमाल करते रहें।
अगर गर्मी का मौसम है या आप ज्यादा गर्मी सहन नहीं कर सकते हो तो इस नुस्खे का इस्तेमाल सुबह के समय ही करें।
साथ ही दिन भर में खूब सारा पानी पिएं।
यकीन मानिए यह जादू की तरह आपके एक्स्ट्रा फैट को बर्न करने के लिए बहुत ही अच्छा और प्रभावी तरीका है।

2. दालचीनी और अदरक -

यह पेट कम करने का एक बेहद ही प्रभावी तरीका है जो आपको तत्काल प्रभाव दिखाता है।
इस नुस्खे के 10 से 15 दिन नियमित इस्तेमाल के बाद आप अपने आप में बहुत ही अच्छा सुधार देखोगे।
अदरक और दालचीनी वाली यह चाय आपमें मोटापा तो कम करेगी ही साथ ही यह पुरुषों में शीघ्रपतन, त्वचा में रूखापन, सर्दी जुखाम, सिर दर्द आदि में भी बेहद लाभकारी है।
त्वचा को प्राकृतिक रूप से गोरा बनाने के लिए भी आप दालचीनी वाली चाय का इस्तेमाल कर सकते हो।
(और पढ़ें : सिर दर्द का इलाज)

क्या चाहिए -

  • दालचीनी एक छोटा टुकड़ा
  • 1/2 चम्मच हल्दी
  • पुदीना 7 से 8 पत्तियां
  • अदरक का रस एक चम्मच

कैसे तैयार करें -

सबसे पहले एक गिलास पानी गर्म करें, जब यह अच्छे से गर्म हो जाए तब इसमें दालचीनी का टुकड़ा डाल दें।
इसके एक से दो मिनट बाद आधा चम्मच हल्दी और अदरक का रस डालने के तुरंत बाद आंच कम कर दें और हल्का गुनगुना करके छान लें।

कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं -

इस चाय का इस्तेमाल आप नोर्मल दूध वाली चाय की जगह पर कर सकते हो।
इसके अलावा अगर आप चाय नहीं पीते हैं तो सुबह शाम खाली पेट ही इसका सेवन करें।
Motapa kam Karna
Motapa kam Karna.

3. जीरा और शहद -

जीरा और शहद मोटापा कम करने के लिए पुराने समय से ही इस्तेमाल किया जा रहा एक बेहद असरदार उपाय है।
जिसके नियमित इस्तेमाल से आप बखूबी बिना किसी एक्सरसाइज और डायट प्लान के अपना पेट कम कर सकते हो।
(और पढ़ें : डायबिटीज के लिए बेस्ट डायट प्लान)

क्या चाहिए -

  • जीरा 1 चम्मच
  • शहद 1 चम्मच
  • नींबू का रस 1/2 चम्मच
  • 1/2 चम्मच अजवायन

कैसे तैयार करें -

यह ड्रिंक तैयार करने के लिए सबसे पहले आपको जीरा और अजवाइन रात को एक गिलास पानी में भिगोकर रख देना है।
सुबह अगर आप खा सकते हो तो भीगा हुआ जीरा और अजवाइन चबा चबा कर खाएं साथ ही भिगोए हुए पानी को गर्म करें।
इसके बाद इसमें शहद और नींबू का रस डालकर हल्का गुनगुना होने के लिए छोड़ दें।

कैसे इस्तेमाल करें -

इसका इस्तेमाल करने के लिए आपको सुबह खाली पेट होना बेहद जरूरी है, तभी यह फायदेमंद होगा।
साथ ही यह ड्रिंक पीने के 1 घंटे बाद तक किसी भी खाद्य पदार्थ का सेवन न करें।
इसके अलावा इसे हल्का गुनगुना ही इस्तेमाल करें ताकि आपका वजन तेजी से कम हो सके।

4. अश्वगंधा -

आयुर्वेद में अश्वगंधा को वजन बढ़ाने और वजन घटाने दोनों ही रूपों में एक चमत्कारी औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है।
वजन बढ़ाने के लिए आमतौर पर इसका पाउडर बनाकर प्रयोग में लिया जाता है।
जबकि मोटापा या पेट कम करने के लिए इसके पत्तों को पानी में उबालकर इस्तेमाल किया जाता है।
(और पढ़ें : वजन कैसे बढ़ाएं बेस्ट तरीका)

क्या चाहिए -

  • अश्वगंधा के पत्ते

कैसे बनाए और इस्तेमाल करें -

इसका इस्तेमाल करना बेहद सरल और सुगम जिसके मात्रा तीन दिनों के प्रयोग से आपको अपने मोटापे में चमत्कारी रूप से असर देखने को मिलेगा।
इसका प्रयोग आपको सुबह, शाम और दोपहर को गर्म पानी के साथ करना होगा।
एक बार में केवल एक पत्ते का ही प्रयोग करें इसके लिए सबसे पहले अश्वगंधा के एक पत्ते को मसल कर खा लें, इसके बाद ऊपर से हल्का गर्म पानी सिप सिप करके पी लें।
निश्चित रूप से तीनों दिनों के प्रयोग से आपको बहुत ही अच्छा रिजल्ट मिलेगा।
पांच से छ दिनों बाद तीन दिन लगातार फिर इसका प्रयोग करें।
साथ ही हल्का भोजन लेने के साथ रोजाना योग प्राणायाम और हल्की एक्सरसाइज जरूर करें।
इससे आपको उम्मीद से भी ज्यादा फायदा मिलेगा।
Motapa kam Karna.
Motapa kam Karna.

5. त्रिफला और शहद -

त्रिफला चूर्ण के संदर्भ में तो आपने सुना ही होगा, अक्सर इसका प्रयोग उनके द्वारा किया जाता है जिन लोगों में कब्ज की शिकायत रहती है।
यह मुख्यत आमला, बहेड़ा और हरड़ जिसे हरीताकी भी कहा जाता से मिलकर बना होता है।
तीनों फलों के मिश्रण की वजह से इसे त्रिफला नाम दिया गया है।
ये सभी हमारे शरीर व आंतो से गंदगी को साफ कर हमारे पाचन और मेटाबॉलिज्म को बेहतर बनाते हैं।
मोटापा या पेट कम करने के लिए अगर आप इसका प्रयोग शहद के साथ करते हो तो बहुत ही अच्छा परिणाम मिलता है।
साथ ही पाचन से जुड़ी सभी समस्याओं का नाश हो जाता है।
(और पढ़ें : कब्ज का इलाज)

क्या चाहिए -

  • शहद 1 चम्मच
  • त्रिफला चूर्ण 1 चम्मच
  • गुनगुना पानी 1 गिलास

कैसे तैयार करें -

इसे उपयोग में लेने के लिए सबसे पहले एक गिलास पानी को हल्का उबाल लें इसके बाद इसे गुनगुना रहने के लिए छोड़ दें।
इसके पश्चात हल्के गुनगुने पानी में शहद मिक्स कर लें।

कैसे सेवन करें -

इसका इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले त्रिफला पाउडर की फंकी लें, इसके बाद ऊपर से यह गुनगुना पानी पी लें।
नियमित रूप से खाने के 2 घंटे बाद यह जरूर करें इससे कुछ ही समय में आपका बढ़ा हुआ मोटापा सामान्य होने लगेगा।
इसके अलावा आप त्रिफला चूर्ण रात को भिगोकर रख दें।
इसके बाद सुबह इसी मिश्रण को पानी में उबालकर शहद के साथ लें।
यह सुबह शाम खाली पेट ही करें।

6. गिलोय क्वाथ -

गिलोय सत्व की जगह मोटापा कम करने के लिए गिलोय क्वाथ का प्रयोग करें।
वजन घटाने के लिए यह भी एक बेहद ही प्रभावी उपाय है जिसका परिणाम हमेशा सकारात्मक ही मिलेगा।
सामान्यत गिलोग सत्व या ज्यूस का इस्तेमाल, डायबिटीज़, आर्थराइटिस, जोडों के दर्द सहित त्वचा व बालों की सेहत के लिए भी किया जाता है।
बढ़े हुए पेट को कम करने के लिए भी आप इसके ज्यूस का इस्तेमाल कर सकते हो लेकिन इसकी जगह अगर आप गिलोय की डंडी का क्वाथ या काढ़ा बनाकर सेवन करते हो तो यह सत्व की तुलना में ज्यादा प्रभावी होता है।
(और पढ़ें : गठिया या आर्थराइटिस का इलाज)

क्या चाहिए -

  • सूखी हुई गिलोय की डंडी का सूखा क्वाथ 1 चम्मच
  • त्रिफला पाउडर 1 चम्मच
  • पानी 2 गिलास

कैसे बनाए और इस्तेमाल करें -

इसको तैयार करने के लिए सबसे पहले गिलोय की डंडी को कूट कर छोटे छोटे टुकड़ों में कर लें।
इसके बाद त्रिफला चूर्ण और गिलोय को बराबर की मात्रा में लेकर रात भर के लिए पानी में भिगोकर रख दें।
सुबह इस मिश्रण को अच्छे से उबाल लें, जब यह आधे से भी कम रह जाए तब इसे छानकर हल्का गुनगुना सिप सिप करके पिएं।
यह प्रयोग आप सुबह खाली पेट ही करें जिससे आपकी जिद्दी से जिद्दी चर्बी आसानी से पिघल जाएगी।
साथ ही आपका पूरा शरीर डिटॉक्स होगा और उपापचय क्रिया भी बेहतर होगी।
Motapa kam Karna
Motapa kam Karna.

7. नींबू पानी -

नींबू पानी भी वजन कम करने के लिए बहुत अच्छा उपाय है, जो स्वादिष्ठ होने के साथ साथ आपके वजन को नियंत्रित करेगा।
यह पेय आपका वजन कम करने के साथ साथ आपके रंग को भी साफ करेगा।
इसके लिए आप सामान्य नींबू पानी तैयार करें लेकिन शुगर की जगह इसमें कालीमिर्च और काला नमक मिलाएं।
आप चाहे तो स्वाद के लिए इसमें कुछ मात्रा में शहद भी मिक्स कर सकते हो।

8. तुलसी के पत्ते -

तुलसी के पत्तों का प्रयोग भी आप अपने मोटापे या पेट को कम करने के लिए कर सकते हो।
जहां तक संभव हो आप यह प्रयोग सर्दियों में ही करें क्योंकि तुलसी गरम मिजाज की होती है जिसकी वजह से यह हमारे शरीर में गर्मी के स्तर को बढ़ा देती है।
साथ ही गर्भवती महिलाओं को इसके इस्तेमाल से बचना चाहिए क्योंकि तुलसी उनमें गर्भपात का कारण भी बन सकती है।
इसका इस्तेमाल करने के लिए एक गिलास पानी में सात से आठ पत्तियां तुलसी की डालकर गरम करें।
इसके बाद इसे हल्का ठंडा करके शहद डालकर धीरे धीरे पिएं।
इससे आपका वजन कम करने में बहुत अधिक मदद मिलेगी साथ ही सर्दी, जुकाम, खांसी आदि में भी आप इसका प्रयोग कर सकते हो।
(और पढ़ें : गर्भपात या गर्भ गिराने का तरीका)
Motapa kam Karna
Motapa kam Karna.

9. खीरा और लौकी -

खीरा लौकी और पुदीने की मदद से बनाया गया यह ड्रिंक आपका वजन कम करने के साथ साथ आपकी प्रतिरक्षा बूस्ट करेगा, त्वचा व बालों की सेहत का खयाल रखेगा, मेटाबॉलिज्म सुधारने के साथ साथ शुगर लेवल कंट्रोल रखेगा।
मोटापा या पेट कम करने के लिए यह एक साधारण लेकिन बेहद प्रभावी तरीका है।
जो आपके शरीर में कैलोरी की कमती कर चर्बी नहीं बनने देगा।

क्या चाहिए -

  • लौकी एक छोटा टुकड़ा
  • पुदीना 8 से 10 पत्तियां
  • सामान्य आकार का आधा खीरा
  • 1/2 नींबू
  • 1/2 काला नमक और कालीमिर्च

कैसे तैयार करें -

इसे बनाने के लिए सबसे पहले लौकी, खीरा, पुदीना, नींबू का रस, काला नमक और काली मिर्च को इसी अनुपात में लेकर एक गिलास पानी के साथ मिक्सी में चलाएं।
जब यह बिल्कुल बारीक पतला पेय बन जाए तब इसे छान लें।

कैसे प्रयोग में लें -

इसके प्रयोग का सबसे उत्तम समय सुबह का होता है।
सुबह के समय यह आपके शरीर में पूरी तरह अवशोषित हो जाता है।
आप चाहें तो इस ड्रिंक का इस्तेमाल सुबह के नाश्ते के बाद भी कर सकते है।
इसमें फाइबर, विटामिन और ग्रीन प्रोटीन की मात्रा भरपूर होती है।
जो हमारे बढ़े हुए मोटापे को आसानी से नियंत्रित कर हमें इस समस्या से निजात दिलाने का काम करते हैं।

10. मेथी दाना -

मेथी दाना आपके वजन को कम करने के साथ साथ, डायबिटीज, आर्थराइटिस, जोड़ों में दर्द, लिकोरिया जैसी समस्याओं को खत्म करने के लिए बेहद गुणकारी है।
यह जादुई रूप से आपका वजन कम करेगा साथ ही इसकी मदद से आपका प्रतिरक्षा तंत्र भी मजबूत होता है।
(और पढ़ें : शुगर या डायबिटीज का इलाज)

क्या चाहिए -

  • मेथी दाना 2 चम्मच
  • एक गिलास पानी
  • शहद 1 चम्मच

कैसे तैयार करें -

सबसे पहले रात को सोते समय दो चम्मच मेथी दाना लेकर एक गिलास पानी में भिगोकर रख दें।
इसके बाद सुबह मेथी दाने सहित इस पानी को गर्म करें।
जब यह उबाल पर आ जाए तब इसे हल्का ठंडा करके एक चम्मच शहद मिला लें, और हल्का गुनगुना ही खाली पेट इसका सेवन करें।
ऐसा सुबह शाम एक महीने तक जरूर करें इससे आपके वजन में कमाल का फर्क देखने को मिलेगा।

11. अरंडी के पत्ते -

मोटापे को कम करने के लिए आयुर्वेद में अरंड के पत्तों का भी इस्तेमाल किया जाता है।
रेगुलर इसके इस्तेमाल से आपकी चर्बी पिघलना शुरू हो जाती है और आपको धीरे धीरे इस समस्या निजात मिल जाती है।
इसके लिए अरंडी के सूखे पत्तों का पाउडर बबूल के गोंद के साथ बनाया जाता है।
अरंडी के पत्तों को 50 ग्राम और गोंद को 10 ग्राम के अनुपात में लेकर यह नुस्खा तैयार किया जाता है।
इसका इस्तेमाल आप 1/2 चम्मच नियमित रूप से खाली पेट ही करें।
यह मोटापा कम करने के साथ साथ शुगर, जोड़ों के दर्द, कब्ज और कमजोरी जैसी समस्याओं में भी बेहद लाभकारी है।
(और पढ़ें : जोड़ों के दर्द का इलाज)
Motapa kam Karna
Motapa kam Karna.

12. ग्रीन टी -

ग्रीन टी एक बहुत ही अच्छा फैट बर्नर है जिसका इस्तेमाल आमतौर पर लोग वजन कम करने के लिए ही करते हैं।
यह आपके बढ़े हुए पेट को कम करने का एक अच्छा उपाय हो सकता है।
यह मोटापा कम करने वाला बेस्ट उपाय होने के साथ साथ आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाएगी, उपापचय क्रिया को बढ़ाएगी, स्किन से जुड़ी कई समस्याओं को खत्म करेगी।
रेगुलरली सामान्य चाय के स्थान पर ग्रीन टी का प्रयोग करें इससे वजन कम करने में बहुत अधिक मदद मिलेगी।

13. सेज लीफ -

सेज लीफ को मोटापा कम करने वाली बेहद प्रभावी औषधि बताया गया है।
इसके लिए इसके पत्तों की एक हॉट ड्रिंक बनाई जाती है, जिसमें सेज लीफ के साथ दालचीनी, हल्दी और पुदीने का इस्तेमाल किया जाता है।
यह ड्रिंक अगर आप नियमित रूप से सुबह शाम अपनी दिनचर्या में जोड़ते हो तो इसकी मदद से आप चाहे जितने वजन को महीने भर में आसानी से सामान्य कर सकते हो।

क्या चाहिए -

  • सेज लीफ 1 चम्मच
  • दालचीनी एक छोटा टुकड़ा
  • हल्दी 1/2 चम्मच
  • पुदीना 8 से 10 पत्तियां

कैसे बनाएं -

इस ड्रिंक को तैयार करने के लिए सबसे पहले 350 ml पानी में सेज लीफ को उबाल लें।
इसके बाद हल्की आंच पर इसमें दालचीनी, हल्दी और पुदीने के पत्ते डालकर ठंडा होने के लिए छोड़ दें।
जब यह हल्का गुनगुना रह जाए तब इसे एक गिलास में छान लें।

कैसे इस्तेमाल करें -

इसका सेवन आप एक एक कप की मात्रा में कभी भी किसी भी समय कर सकते हो।
लेकिन ध्यान रहे खाने के तुरंत बाद या तुरंत पहले सेवन न करें, इसके लिए कम से कम 1 घंटे का अंतर जरूर रखें।
इसका बहुत ही अच्छा परिणाम है अतः आप चाहें तो बढ़ी हुई चर्बी जल्दी खत्म करने के लिए इसका भी उपयोग कर सकते हो।
(और पढ़ें : प्रेग्नेंसी के शुरुआती लक्षण)

14. लेवेंडर फ्लॉवर -

लेवेंडर फ्लॉवर ड्रिंक आपके पेट को कम करने का एक बेहद ही प्रभावी और अचूक तरीका है।
यह मोटापा कम करने के साथ साथ आपके अंदर यादाश्त की कमजोरी और शरीर में हार्मोनल असंतुलन के साथ कई तरह की समस्याओं को हमेशा के लिए खत्म कर देता है।
पेट कम करने में आपको इससे प्रभावी मदद मिलेगी।
इसके लिए लेवेंडर फ्लॉवर की एक चम्मच मात्रा को 300ml पानी में कुछ देर उबालकर हल्का गुनगुना ही पिएं।
Motapa kam Karna
Motapa kam Karna.

15. एप्पल साइडर विनेगर -

नियमित रूप से आप अपनी दिनचर्या में सेब के सिरके का इस्तेमाल करें।
इससे जमी हुई चर्बी धीरे धीरे खत्म होकर आपका शरीर सही आकर में आ जाता है।
सुबह शाम सेब का सिरका पानी के साथ लें यह आपका वजन कम करने में आपकी मदद करेगा।
कई बार कुछ लोगों में इसके प्रयोग से कफ की शिकायत हो जाती है।
अगर आप इससे बचना चाहते हो तो हल्के गरम पानी के साथ ही इसका इस्तेमाल करें।

16. इसबगोल -

मोटापा कम करने के लिए अगर इसबगोल की बात की जाए तो यह भी एक बेहद लाभकारी औषधि हो सकती है।
इसके प्रयोग से आपको तुरंत परिणाम मिलता है।
इसबगोल में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता जिसकी वजह से यह हमारे शरीर की वाटर रिटेंशन और बढ़ी से बढ़ी कब्ज की समस्या को आसानी से खत्म कर देती है।
बढ़े हुए पेट या मोटापे को कम करने के लिए इसबगोल आपको चार से पांच दिनों में पूरी तरह फिट बना देती है।
(और पढ़ें : सफेद दाग का इलाज)

क्या चाहिए -

  • इसबगोल का पाउडर 1 चम्मच
  • पानी 1 गिलास

कैसे तैयार करें और प्रयोग में लाएं -

इसे बनाना और इस्तेमाल करना बिल्कुल आसान है इसके लिए आपको इसबगोल का पाउडर खाना खाने के बाद एक गिलास पानी के साथ लेना है।
इसका प्रयोग आप सुबह शाम एक चम्मच की मात्रा में कर सकते हो।
लेकिन इसबगोल का प्रयोग करने से पहले एक बात जरूर ध्यान रखें कि यह एक प्रकार से आदती है।
जिसका यदि आप ज्यादा दिन तक प्रयोग करते हो तो यह आपकी आदत बन जाता है।
इसके लिए इसका सेवन लगातार पांच दिनों से अधिक न करें।
20 से 25 दिनों के अंतराल के बाद आप फिर इसे सुचारू कर सकते हो।
पेट या मोटापे को अगर आप बहुत जल्दी कम करना चाहते हो तो इसबगोल का प्रयोग भी एक बेहतरीन उपाय या तरीका हो सकता है।

17. नींबू का छिलका -

नींबू पानी की जगह अगर आप नींबू के छिल्के को कस कर इस्तेमाल करते हो तो यह भी बेहद प्रभावी रूप से आपके बढ़े हुए पेट या मोटापे को कम करेगा।
इसके छिल्के में सिट्रिक ऐसिड और विटामिन सी की मात्रा भरपूर होती है।
जो हमारे अंदर जमी जिद्दी चर्बी को कुछ ही समय में गला कर खत्म कर देते हैं।
यह हमारी त्वचा को निखार देने के साथ साथ सभी प्रकार के त्वचा रोगों सहित किडनी से संबंधित समस्याओं में भी बेहद लाभकारी है।
पेट कम करने के लिए यह हमारे शरीर की उपापचय क्रिया को कई गुना बढ़ा देता है जिससे बढ़ा हुआ वजन आसानी से कम होने लग जाता है।
(और पढ़ें : किडनी स्टोन या पथरी का इलाज)

क्या चाहिए -

  • नींबू 1
  • पानी 1 गिलास

कैसे तैयार करें -

सबसे पहले नींबू को कस कर उसके ऊपरी पीले आवरण को अलग कर लें।
इसके बाद नींबू का रस निकाल लें।
अब एक गिलास पानी को नींबू का कसा हुआ छिलका डालकर गरम करें।
गर्म होने के बाद इसे हल्का ठंडा करके नींबू का रस डाल कर पिएं।
इसमें आप शहद भी मिलाकर प्रयोग कर सकते हो, दोनों ही रूपों में यह बेहद असरदार ड्रिंक है।

कैसे इस्तेमाल करें -

इसका प्रयोग आप सुबह शाम खाली पेट नियमित रूप से करें।
अगर इस ड्रिंक में आप शहद का प्रयोग करते हो तो इस बात का जरूर ध्यान रखें कि शहद मिक्स करते समय यह ड्रिंक ज्यादा गरम ना हों।
ज्यादा गरम पानी में शहद हमें नुकसान भी दे सकता है जिसमें सिर दर्द, थकान, ऐंठन जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं।
Motapa kam Karna
Motapa kam Karna.

18. करेला -

बढ़े हुए पेट से छुटकारा पाने के लिए आप करेला और धनिए का यह ड्रिंक बनाकर इस्तेमाल कर सकते हो।
किसी भी उम्र में वजन को नियंत्रित करने के लिए यह भी एक बेहतरीन हैल्थी तरीका है।
जो आपमें डायबिटीज़, ब्लड प्रेशर, स्किन डिजिज, हेयर प्रोब्लेम्स सहित मोटापे को जड़ से खत्म कर आपको स्वस्थ और फिट बनाता है।
(और पढ़ें : हाई ब्लड प्रेशर का इलाज)

क्या चाहिए -

  • एक सामान्य आकार का करेला
  • 1 आलू
  • करी पत्ता 5 से 10 ग्राम
  • धनिया 5 से 10 ग्राम

कैसे तैयार करें -

यह ड्रिंक तैयार के लिए सबसे पहले आपको इन सभी चीजों को अच्छे से साफ करके छोटे छोटे टुकड़ों में काट लेना है।
इसके बाद 1/2 गिलास पानी के साथ मिक्सर में चला लेना है।
जब यह एक पतले पेस्ट के रूप में बदल जाए तब इसे छान लें।

कैसे सेवन करें -

इसका इस्तेमाल आप कभी भी किसी भी समय कर सकते हो।
जब भी आप यह ड्रिंक तैयार करें तो इसे ताजा ही बनाएं।
आप इसे नियमित सुबह शाम इस्तेमाल कर सकते हो।
इसके रेगुलर इस्तेमाल से आपका बढ़ा हुआ मोटापा कम होने के साथ साथ कई तरह की बीमारियों से भी बचाव होता है।
क्योंकि यह आपमें उपापचय क्रिया को तेज करने के साथ साथ आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली में वृद्धि करता है।

19. एक्सरसाइज -

मोटापा कम करना है तो इसके लिए नियमित एक्सरसाइज करना भी बेहद जरूरी है।
इससे आपका शरीर सही शेप में भी आ जाता है और किसी प्रकार के डायट प्लान की भी जरूरत नहीं होती है।
नियमित रूप से हर व्यक्ति को हल्की एक्सरसाइज जरूर करनी चाहिए क्योंकि हल्का वर्कआउट हमारे शरीर की सबसे आम जरूरतों में से एक है।
जो हमें शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ व तंदुरुस्त बनाए रखने में अहम भूमिका निभाता है।
पेट कम करने के लिए आप रोजाना कुछ एक्सरसाइज कर सकते हो जैसे की - स्प्रिंट लगाना, रस्सी कूद करना, स्विमिंग करना, जॉगिंग करना, कार्डियो एक्सरसाइज, आदि।
(और पढ़ें : पेट कम करने के लिए बेस्ट एक्सरसाइज और योग आसन)

20. योग प्राणायाम -

आप योग और प्राणायाम की मदद से भी अपने आपको फिट और तंदुरुस्त रख सकते हो।
योग प्राणायाम ने अनेकों तरह की लाइलाज बीमारियों पर भी फतह पाई है।
एक स्वस्थ व्यक्ति को भी अगर हमेशा सभी तरह से स्वस्थ रहना है तो योग प्राणायाम बेहद जरूरी है।
पेट या मोटापे के लिए कई सारे योग और प्राणायाम हैं जिनकी मदद से आप मनचाहा वजन आसानी से कम कर सकते हो।
अगर आप इन नुस्खों के साथ वजन कम करने वाले योग करते हो तो यकीन मानिए आपका वजन जादू की तरह आप चाहो जितना बहुत ही कम समय में आसानी से हो जाएगा।
मोटापा कम करने के लिए कुछ बेहद प्रभावी योग प्राणायाम हैं जिन्हें आप अपनी दिनचर्या में उतार सकते हो जैसे कि - सूर्य नमस्कार, कपालभांति, चक्रासन, धनुषाशन, भुजंगासन, अनुलोम विलोम, भस्त्रिका, हलासन, पादहस्तासन, त्रिकोणासन, आदि।
(और पढ़ें : अनुलोम विलोम, कपालभांति, भस्त्रिका प्राणायाम)
Motapa kam Karna
Motapa kam Karna.

21. एक्यूप्रेशर पॉइंट्स से मोटापा (पेट) कम करने का तरीका -

हमारे शरीर के कई सारे ऐसे पॉइंट्स हैं जो किसी न किसी शारीरिक अंग के लिए काम करते हैं।
इस पॉइंट्स की मदद से आप डायबिटीज, आर्थराइटिस, कब्ज, मोटापा, जोड़ों का दर्द, तनाव आदि समस्याओं को आसानी से सामान्य रख सकते हो।
मोटापा कम करने के लिए आप इन्हीं संबंधित पॉइंट्स का प्रयोग कर सकते हो।
इनकी मदद से आपका वजन बहुत जल्दी कम होने के साथ साथ आपकी पाचन क्रिया सही होगी, मेटाबोलिक रेट में बढ़ोतरी होगी, कब्ज आदि समस्याओं में भी बहुत ही अच्छा परिणाम मिलेगा।
इसके लिए आपके दोनों अंगूठों के अग्र भाग पर बिल्कुल बीच में एक प्वाइंट होता है।
जिन्हें अगर आप दो से तीन मिनट तक दबाते हो तो पेट कम करने में आपको बहुत अधिक फायदा मिलेगा।
दूसरा प्वाइंट आपकी नाक के नीचे और होट के ऊपर बीच वाली जगह भी मोटापा कम करने वाला एक बहुत ही अच्छा प्वाइंट है।
(और पढ़ें : हाइट कैसे बढ़ाएं)

मोटापा कम करने के लिए वीडियो -

मोटापा (पेट) कम करने के लिए जरूरी बातें और कुछ सावधानियां -

मोटापा सम्पूर्ण रूप से आपके खानपान और आपकी निष्क्रियता से जुड़ा हुआ है।
कई बार कुछ बीमारियों की वजह से भी आपमें मोटापा आ सकता है।
लेकिन अधिकतर मामलों में आपका भोजन और लाइफस्टाइल ही इसके लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार होती हैं।
अगर आप मोटापे को कम करना चाहते हो तो इसके लिए आपको उन सभी कारणों को खत्म करना होगा जिनकी वजह से यह समस्या आपमें पनप रही है।

जरूरी बातें -

  1. नियमित रूप से हल्की भागदौड़ और योगाभ्यास जरूर करें पेट को सामान्य व सुचारू रखने के लिए यह बेहद जरूरी है।
  2. अगर आपमें यह समस्या बहुत अधिक बढ़ी हुई है तो आपको बाहर के स्पाइसी और अधिक मिर्च मसाले वाला तला गला खाना बिल्कुल भी नहीं खाना चाहिए।
  3. किसी भी प्रकार का नशा मोटापा बढ़ाने में प्रभावी रूप से मददगार होता है अगर आप इसके आदि हैं तो या तो आप इनका इस्तेमाल बिल्कुल न करें या बहुत ही कम करें।
  4. खाने में मीठे का प्रयोग करने से जरूर बचें, मीठा आपके हमारे अंदर बहुत ही तीव्र गति से मोटापा बढ़ाता है अतः इसके सेवन से परहेज़ जरूर रखें।
  5. तनाव से बचें क्योंकि यह हमारे अंदर सीधे ही मोटापे को बढ़ावा देता है।
  6. जब भी पानी पिएं तो उसे एक साथ गटकने की बजाय सिप सिप करके ही पिएं।
  7. भोजन में संयम रखने का प्रयास करें अनाज की बजाय कच्ची सब्जियों का ज्यादा इस्तेमाल करें।
  8. एक बार में ही भर पेट खाने की बजाय अपने खानपान को टुकड़ों में रखें और हल्का खाएं।
  9. खाना खाने के बाद पानी पीने से बचें, हो सके तो खाने के साथ सुबह फलों का ज्यूस दोपहर में छाछ या दही और शाम को दूध आदि का सेवन करें।
  10. नींद हमेशा जितनी हमें जरूरत हो उतनी ही लें न तो कम और न ही ज्यादा।
  11. अपने पाचन और उपापचय दर को सुचारू रखें।
Tags -
पेट कम करने के घरेलू उपाय, मोटापा कम करने का नुस्खा, पेट की चर्बी कैसे कम करें, पेट और कमर की चर्बी कम करने का तरीका, motap kam karna, बेल्ली फैट कैसे घटाएं, वजन घटाने के आसान उपाय बताएं,

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें