घुटनों के दर्द (knee pain) की 11 नई देसी दवाएं | Ghutno ke dard ka ilaj.

घुटनों के दर्द (knee pain) की 11 नई देसी दवाएं | Ghutno ke dard ka ilaj - आज की इस मॉडर्न दुनिया में घुटनों के दर्द की समस्या 50 और 55 से ऊपर वाले लोगों में 80% तक पाई जाती है।
क्योंकि एक तो आजकल की ईटिंग हैबिट्स ही कुछ ऐसी ही हैं और दूसरा आजकल हर तरह के आरामदायक साधन उपलब्ध हैं।
जिस शारीरिक श्रम की हमारे शरीर को जरूरत होती है वह हमारी लाइफ में बहुत ही कम मिलता है।
जिसके चलते आज दुनिया भर में लोग घुटनों के दर्द सहित तरह तरह की समस्याओं से ग्रसित हैं।
घुटनों में दर्द अक्सर अधेड़ उम्र के बाद लोगों में आ ही जाता है।
यह समस्या पुरुषों की तुलना में महिलाओं में पहले और अधिक होती है।
महिलाओं में अक्सर घुटनों के दर्द की समस्या राजोनिवृती (मेनोपॉज) के बाद से ही शुरू होने लग जाती है।
Knee pain की यह समस्या इतनी गंभीर हो सकती है कि आपको खड़े होने तथा चलने फिरने तक में बहुत अधिक मसक्कत करनी पड़ती है।
मार्केट में आपको बहुत सारी दर्द निवारक दवाएं (pain killer) मिल जाती हैं लेकिन उनका दुष्प्रभाव भी साथ में आपको झेलना पड़ता है।
अतः अपने दर्द को लाइलाज ना बनाए और ना ही उसे अस्थाई रूप से रोकने की कोशिश करें।
(और पढ़ें : गठिया का सबसे बेस्ट इलाज)
घुटनों के दर्द (knee pain) की 11 नई देसी दवाएं | Ghutno ke dard ka ilaj.
Ghutno ka dard.
प्रकृति ने हमें ऐसी दवाओं (medicine) का खजाना दिया है जिनकी मदद से आप पुराने से पुराने और गंभीर से गंभीर घुटनों के दर्द को जड़ से खत्म कर सकते हो।
इसके लिए आपको जरूरत है सिर्फ कुछ औषधियों के नियमित प्रयोग की और अपने (diet) खानपान सहित अपनी नियमित गतिविधियों में बदलाव की।
आज हम आपसे बात करने वाले हैं कुछ घरेलू और आयुर्वेदिक नुस्खों की जिनकी मदद से आप आसानी से अपने घुटनों के दर्द से हमेशा हमेशा के लिए निजात पा सकते हो।

घुटनों के दर्द (knee pain) की 12 नई देसी दवाएं | Ghutno ke dard ka ilaj.

(Knee pain) घुटनों में दर्द के कारण (causes of knee pain in Hindi)

घुटनों में दर्द के लिए बहुत सारे कारण जिम्मेदार हो सकते हैं, जिनमें मुख्य रूप से प्रभावी कारण निम्न हैं।
  • बढ़ती उम्र
  • किसी प्रकार की मोच
  • गलत ढंग से बैठने की मुद्रा को अपनाना
  • अधिक वजन उठाना
  • किसी भी प्रकार का गठिया
  • अधिक समय तक बैठे या खड़े रहना
  • चिकनी चुपड़ी और तली गली चीजों को अधिक महत्व देना
  • हड्डियों का कमजोर होना
  • किसी प्रकार का इंफेक्शन
  • पुरानी चोट
  • जोड़ों में कार्टिलेज का घिस जाना
  • बहुत अधिक शारीरिक श्रम और व्यायाम करना
  • मांसपेशियों में गलत ढंग से खिंचाव आना
  • मोटापा
  • अव्यवस्थित खानपान
इनके अलावा और भी कई सारे कारक घुटनों में दर्द का कारण बन सकते हैं।
(और पढ़ें : हाई यूरिक एसिड के शुरुआती लक्षण)

घुटनों के दर्द की दवा (ghutno ke dard ki dawa) | Ghutno ke dard ka ilaj.

1. दालचीनी से घुटनों के दर्द का इलाज -

दालचीनी और लौंग आदि से बनाई गई घुटनों के दर्द (knee pain) की यह दवा आपके लिए जादू की तरह काम करेगी।
इसके पहले ही use से आपको हर प्रकार के जोड़ों और घुटनों के दर्द में राहत मिलेगी।
साथ ही साथ कुछ दिन लगातार इस्तेमाल करते रहने पर आपको हर तरह के pain से permanently छुटकारा मिल जाएगा।
आप चाहे कितने भी पुराने दर्द के परेशान हों एक बार यह दवा जरूर use करके देखें।
इससे जोड़ों कि flexibility बढ़ेगी, सूजन कम होगा और जोड़ों को अंदर से strength मिलेगी।

क्या चाहिए -

  1. दालचीनी 25 ग्राम
  2. लौंग 10
  3. सरसों का तेल 50 ग्राम
  4. हल्दी 1/2 चम्मच
  5. लहसुन 8 से 10 कली
  6. मोम 15 ग्राम

कैसे बनाएं -

इसको तैयार करने के लिए सबसे पहले आपको सरसों का तेल गरम करके उसमें लौंग और दालचीनी को डाल कर पकाना है।
इसके बाद इसमें लहसुन और मोम को डाल दें।
जब डाला गया लहसुन काला पड़ जाए तब इसमें 1/2 चम्मच हल्दी डालकर ठंडा होने के लिए छोड़ दें।
जब यह तेल अच्छे से ठंडा हो जाए तब इसे छान कर कांच की शीशी में भरकर रख लें।

कैसे इस्तेमाल करें -

बनाए गए तेल का इस्तेमाल आपको रात को सोते समय या दिन में हल्की दूप में बैठकर मसाज करनी है।
मसाज करने के बाद आप अपने घुटनों या दर्द वाली जगह को गर्म पट्टी की सहायता से बांध लें।
ताकि यह तेल गर्माहट से आपकी त्वचा में समा सके।
इसके एक दो बार का इस्तेमाल ही आपके घुटनों को पूरी तरह दर्द से मुक्त कर देगा।
इस समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा पाने के लिए नियमित रूप से कुछ दिनों तक सुबह शाम मसाज करते रहें।
(और पढ़ें : यूरिक एसिड का अचूक इलाज)

2. मैथीदाने से घुटनों के दर्द का इलाज -

मैथीदाने से घुटनों के दर्द के लिए बनाई गई यह दवा भी बहुत ही बेहतर ढंग से आपको दर्द मुक्त करती है।
इसका इस्तेमाल भी आपके घुटनों को पुष्ठ बनाएगा जिससे हर तरह के दर्द से आपको छुटकारा मिलेगा।
यह दवा एक पेस्ट के रूप में तैयार की जाती है लेकिन यदि आप सूखे मैथीदाने को भी अपनी दर्द वाली जगह पर किसी कपड़े की सहायता से बांध लेते हो तो इससे भी तुरंत आपको दर्द में आराम मिलता है।
चाहे आपमें कैसा भी कहीं का भी दर्द हो मैथीदाना चुंबक की तरह दर्द को बहुत जल्दी सोख लेता है।

क्या चाहिए -

  1. मैथीदाना 200 ग्राम
  2. पानी 2 गिलास
  3. हल्दी 1 चम्मच
  4. 2 चम्मच एलोवेरा ज्यूस

कैसे तैयार करें -

इसको तैयार करने के लिए आपको सबसे पहले मैथीदाने को रात भर पानी में भीगने के लिए छोड़ देना है।
सुबह जब ये अच्छे से भीग जाएं इसके बाद इन्हें मिक्सी में चलाकर एक पतला पेस्ट तैयार कर लें।
इसके बाद बनाए गए पेस्ट को कढ़ाई में डाल कर एक गिलास पानी के साथ पकाएं।
जब यह पेस्ट टाइट होने लगे तब इसमें एक चम्मच हल्दी और एलोवेरा ज्यूस डाल दें।
अब जब पानी बिल्कुल सूख जाए और मावे जैसा पेस्ट रह जाए तब इसे ठंडा कर लें।

कैसे इस्तेमाल करें -

इस्तेमाल करने से पहले एक बात का जरूर ध्यान रखें आप जब भी इस पेस्ट का इस्तेमाल करें इसे हल्का सा गर्म जरूर करें।
क्योंकि ठंडी चीजें आपके दर्द को बढ़ावा देने का काम करती हैं।
अप्लाई करने के लिए पेस्ट को घुटने के चारों तरफ लगा कर हल्के हाथों से कुछ देर रगड़ें।
इसके बाद इसे लगा रहने के लिए छोड़ दें और ऊपर से किसी कॉटन या गरम पट्टी से बांध लें।
पुराने से पुराने घुटनों के दर्द की समस्या को दूर करने के लिए यह भी एक बहुत ही बेहतरीन घरेलू नुस्खा है।
जिसे आप अपने घर पर ही बहुत ही आसानी से तैयार कर सकते हो।
(और पढ़ें : शुगर का सबसे बेस्ट इलाज)
घुटनों के दर्द (knee pain) की 11 नई देसी दवाएं | Ghutno ke dard ka ilaj.
Ghutno ka dard.

3. हल्दी से घुटनों के दर्द का इलाज -

हल्दी को इसके लाजवाब गुणों के कारण आयुर्वेद में बहुत अधिक महत्व दिया जाता है।
इसके एंटी इन्फ्लामेट्री गुणों के कारण यह अंदरुनी घावों को भरने में लाभदायक है।
साथ इसका लेप हड्डियों और जोड़ों को प्राकृतिक पुष्ठता प्रदान करता है।
पुराने समय से ही इसे अनेकों तरह की समस्याओं में एक सफल औषधि की तरह इस्तेमाल किया जाता है।

क्या चाहिए -

  1. हल्दी 1 चम्मच
  2. चुना 1 ग्राम
  3. शहद 1 चम्मच

कैसे तैयार करें -

इस दवा को तैयार करने के लिए आपको हल्दी चुना और शहद का मिश्रण तैयार करना होगा।
इस मिश्रण में आप शहद के स्थान पर चीनी का भी इस्तेमाल कर सकते हो।
चीनी या शहद, इस मिश्रण को प्रभावित जगह पर लगाए रखने में बेहद उपयोगी हैं, इसी लिए इनका इस्तेमाल इस दवा के अंदर किया जाता है।
सबसे पहले बताई गई मात्रा अनुसार तीनों चीजों का एक मिश्रण तैयार करके इसे अच्छे से फेंट लें।

कैसे इस्तेमाल करें -

घुटनों के दर्द में इसका इस्तेमाल करने के लिए आपको इसका लेप करना होगा।
ध्यान रहे लेप पूरे घुटने पर आगे व पीछे दोनों तरफ करें।
थोड़ी देर घुटने पर इस लेप की मसाज करने के पश्चात किसी तौलिए या गरम पट्टी की सहायता से इसे बांध लें।
अगर रात को सोते समय आप इस लेप का इस्तेमाल करते हो तो यह ज्यादा फायदेमंद होगा।
साथ ही 1/2 चम्मच हल्दी को दूध में डाल कर पिया जा सकता है इससे दर्द में बहुत जल्दी आराम मिलता है।
लेकिन यदि बहुत अधिक गर्मी है तो दूध में हल्दी का सेवन न करें।
हल्दी का यह लेप आपके जोड़ों या घुटनों में होने वाली सूजन, दर्द और हड्डियों से जुड़ी तमाम समस्याओं में फायदा देगा।
(और पढ़ें : घुटनों के दर्द के लिए योगा)

4. लहसुन से घुटनों के दर्द का इलाज -

घुटनों के दर्द में लहसुन भी बेहद लाभकारी है इसके नियमित इस्तेमाल से होने वाले दर्द में प्रभावी राहत मिलती है।
लहसुन होने वाली सूजन और लाली को समाप्त करने के साथ दर्द में तुरंत राहत देता है।
आयुर्वेद में इसे शीघ्रपतन, खुजली और पाचन संबंधी अनेकों समस्याओं के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।

क्या चाहिए -

  1. लहसुन 8 से 10 कली
  2. लौंग 5 से 7

कैसे तैयार करें -

इसे तैयार करने के लिए आपको लौंग व लहसुन को एक साथ पीस कर लेप तैयार करना होगा।
इसके अलावा इन्हे तिल के तेल में पकाकर मसाज ऑयल भी तैयार किया जा सकता है।
लहसुन को आप केप्सूल की भांति निगल भी सकते हो इससे दर्द मर राहत मिलती है।

कैसे इस्तेमाल करें -

लौंग और लहसुन का लेप बनाकर अपने घुटनों पर दोनों तरफ लगाए साथ ही लेप करने से पहले इसका तेल बनाकर भी मसाज कर सकते हो।
यह घुटनों में दर्द को शांत करने के साथ साथ इन्हे प्राकृतिक रूप से मजबूती प्रदान करेगा और भविष्य में आपको इस तरह की समस्या से जूझना नहीं पड़ेगा।
(और पढ़ें : कमर दर्द का पुख्ता इलाज)

5. अदरक से घुटनों के दर्द का इलाज -

अदरक भी हर प्रकार के दर्द में पैन किलर का काम करती है।
इससे दर्द में तुरंत राहत मिलती है और ठंदक का अहसास होता है।

क्या चाहिए -

  1. अदरक एक टुकड़ा
  2. काला नामक एक चुटकी
  3. प्याज का रस 1 चम्मच

कैसे तैयार करें -

यह नुस्खा तैयार करने के लिए सबसे पहले एक प्याज कूट कर उसका रस निकाल लें।
इसके बाद अदरक को कद्दूकस की मदद से बारीक कर लें।
अब इसमें एक चुटकी काला या सेंधा नमक मिला लें और ऊपर से प्याज का रस मिक्स कर दें।

कैसे इस्तेमाल करें -

इस्तेमाल करने के लिए आप इसे गर्म करके हल्दी के साथ चाय भी बना सकते हो या इसका लेप बनाकर अपने घुटनों पर अप्लाई कर सकते हो।
दोनों ही रूपों में यह दर्द निवारक का काम करेगा।
(और पढ़ें : तेजी से खून बढ़ाने के उपाय)

6. अजवाइन और नमक से घुटनों के दर्द का इलाज -

घुटनों के दर्द में तुरंत राहत पाने के लिए अजवाइन और नमक की गरम सिकाई भी बेहद उपयोगी है।
इससे शरीर के जिस भी हिस्से में दर्द हो वह बहुत जल्दी शांत हो जाता है।

क्या चाहिए -

  1. अजवाइन का पाउडर 3 चम्मच
  2. सेंधा नमक 2 चम्मच
  3. सौंठ का पाउडर 2 चम्मच

कैसे बनाए -

अजवाइन, सौंठ और नमक को इसी मात्रा में लेकर एक सूंती या कॉटन के कपड़े में बांधकर एक पोटली बना लें।

कैसे इस्तेमाल करें -

इसके बाद इसे भांति - भांति गरम कर के अपनी दर्द वाली जगह की अच्छे से मसाज करें।
इस मिश्रण से सिकाई करने पर आपको जोड़ों और घुटने के हर तरह के दर्द में तुरंत राहत मिलती है।

7. धतूरे के फूलों से घुटनों के दर्द का इलाज -

धतूरे के फूल घुटनों के दर्द को शांत करने के लिए पुराने समय से ही इस्तेमाल किए जा रहे है।
यह नशीला पौधा है जिसके पत्तों का इस्तेमाल आर्थराइटिस के लिए भी किया जाता है।
यहां हम इसके फूलों से एक मसाज ऑयल तैयार करना बताएंगे।
जिसकी मदद से घुटनों के पुराने से पुराने दर्द से पूरी तरह छुटकारा पाया जा सकता है।

क्या चाहिए -

  1. धतूरे के फूल 10 से 12
  2. तिल का तेल 200 ग्राम
  3. आमी हल्दी 1 छोटा टुकड़ा

कैसे बनाएं -

सबसे पहले तिल के तेल को धीमी आंच पर पकाएं, पकाने के पश्चात इसमें आमी हल्दी और धतूरे के फूलों को डाल दें।
धीरे धीरे जब फूलों का रंग काला पड़ जाए तब इसे ठंडा होने के लिए छोड़ दें।
ठंडा होने के बाद इसे छानकर रख लें।

कैसे लगाए -

बनाए गए तेल का इस्तेमाल करने से पहले इसे हल्का गरम जरूर करें।
इसके बाद हल्की धूप में बैठ कर अपने घुटनों की हल्के हल्के हाथों से मसाज करें।
कुछ ही दिनों के प्रयोग से आपको घुटनों के दर्द में बहुत अच्छा फायदा मिलेगा।
(और पढ़ें : प्रेग्नेंसी के शुरुआती लक्षण)
घुटनों के दर्द (knee pain) की 11 नई देसी दवाएं | Ghutno ke dard ka ilaj.
Ghutno ka dard.

8. आंक के पत्तों व जड़ से घुटनों के दर्द का इलाज -

घुटनों के दर्द में आंक की जड़ व पत्ते भी बेहद फायदेमंद हैं।
इनके इस्तेमाल से गंभीर से गंभीर जोड़ों व घुटनों के दर्द में आराम मिलता है और यह समस्या सम्पूर्ण रूप से खत्म हो जाती है।

क्या चाहिए -

  1. आंक 3 से 4 पत्ते
  2. 200 ग्राम आंक की जड़

कैसे बनाए -

घुटनों के दर्द के लिए आंक की जड़ व पत्तों का अलग अलग इस्तेमाल किया जाता है।
सबसे पहले 200 ग्राम आंक की जड़ को एक लीटर पानी में उबाल लें।
जब यह पानी एक चौथाई रह जाए तो इसे हल्का सा ठंडा होने दें।

कैसे इस्तेमाल करें -

अब इस पानी से अपने घुटनों या जोड़ों की अच्छे से मसाज करें।
मसाज के बाद आंक के पत्तों पर तिल का तेल या गाय का घी लगाकर हल्की आंच पर गर्म करें।
इसके बाद इन्हे दर्द वाली जगह पर लगाकर तौलिए की सहायता से बांध लें।
ऐसा करने पर आपको होने वाले दर्द में तुरंत राहत पहुंचेगी और यह समस्या कुछ ही समय में पूरी तरह खत्म हो जाएगी।

9. गिलोय से घुटनों के दर्द का इलाज -

नियमित रूप से गिलोय की डंडी का रस निकाल कर सेवन करने से भी आपको हर प्रकार के जोड़ों के दर्द में राहत मिलती है।
इसकी जगह आप बाजार में मिलने वाले गिलोय सत्व का भी इस्तेमाल कर सकते हो।

विधि -

नियमित रूप से सुबह खाली पेट दो चम्मच गिलोय के ज्यूस में एक कप पानी और एक चम्मच अदरक का रस मिलाकर सेवन करें।
जोड़ों के दर्द और गठिया जैसी दर्दनाक बीमारियों के लिए यह बहुत ही बेहतरीन औषधि है।

10. गाय के घी से घुटनों के दर्द का इलाज -

घुटनों के दर्द को जड़ से खत्म करने के लिए देसी गाय के घी का भी इस्तेमाल किया जाता है।
एक चम्मच देसी गाय के घी को एक गिलास पानी में गर्म करें और जब यह एक कप की मात्रा में रह जाए तब इसे हल्का गरम ही सिप सिप करके पी लें।
इसके अलावा घुटनों के दर्द के लिए आप इसे गाय के गर्म दूध में भी ले सकते हो।
यह हर तरह से जोड़ों की सूजन, अकड़न और दर्द को दूर कर उन्हें मजबूती देता है।
साथ ही कैल्शियम कमी, कार्टिलेज का घिस जाना और गैफ आदि समस्याओं को आसानी से खत्म कर देता है।
(और पढ़ें : बवासीर का पक्का रामबाण इलाज)

11. पारिजात से घुटनों के दर्द का इलाज -

आप पारिजात के पत्तों की मदद से भी अपने घुटनों के दर्द से हमेशा के लिए छुटकारा पा सकते हो।
पारिजात को हरसिंगार के नाम से भी जाना जाता है अक्सर इसका इस्तेमाल आर्थराइटिस के मरीजों के लिए किया जाता है।
आर्थराइटिस में हरसिंगार या पारिजात के पत्तों के बहुत ही अच्छे परिणाम हैं।
घुटनों के दर्द की समस्या में भी यह बेहद लाभकारी है इससे घुटने का दर्द पूरी तरह खत्म हो जाता है और हड्डियों से जुड़ी अन्य समस्याओं में भी फायदा मिलता है।

विधि क्या है -

सबसे पहले हरसिंगार के 1/2 से 1 किलो पत्तों को बारीक पीसकर इससे दुगने पानी में उबाल लें।
जब यह आधा रह जाए तो ठंडा करके छान लें और एक कांच के बर्तन में भरकर रख लें।
नियमित रूप से एक कप की मात्रा में सुबह खाली पेट इसका सेवन करें।
कुछ दिनों के नियमित इस्तेमाल से घुटनों का दर्द प्रभावी रूप से खत्म हो जाएगा।

घुटनों के दर्द से बचाव और सावधानियां -

  • अपने weight को हमेशा control रखें, क्योंकि शरीर का पूरा weight हमारे घुटनों और कमर के जोड़ों पर ही होता है।
  • अगर आप हमेशा stress में रहते हो या ज्यादा सोच विचार करते हो तो इससे भी knee pain की संभावना हो सकती है अतः नियमित रूप से लहसुन की एक कली का सेवन करें इससे आप तनाव मुक्त रहते हो।
  • खड़े होकर या लेटकर कभी भी खानापानी बिल्कुल भी न करें।
  • जब भी पानी पिएं उसे एक बार में गटकने की बजाय शिप शिप करके पिएं, इससे एक तो bones से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा मिलता है साथ प्रभावी रूप से आपका वजन control में रहता है।
  • बाजारू खाद्य जो पाचन में hard हैं उन्हें कभी भी अपनी आदत ना बनाए।
  • ज्यादा चिकनाई युक्त तली गली चीजों का बिल्कुल भी खाने में use ना करें।
  • नशीले पदार्थों से हमेशा खुद को बचाए रखें, इस तरह की सभी चीजें आपको physical और mental दोनों ही प्रकार से कमजोर बनाती हैं।
  • शुद्ध शाकाहारी और सुपाच्य भोजन लें ताकि पाचन संबंधी विकारों को समाप्त किया का सके।
  • नियमित रूप से नहाने के पानी हल्का सा नमक डालकर जरूर नहाएं।
  • हफ्ते में एक बार अपने पूरे शरीर की अच्छे से massage जरूर करवाएं ताकि bones को अंदरुनी रूप से strength दी जा सके।
Tags -
Ghutno ka dard, knee pain in Hindi, ghutno ke dard ka ilaj, ghutno ke dard ki dawa,

4 टिप्‍पणियां: