गर्भ गिराने का नया बेस्ट तरीका (अनचाहा गर्भ) | Abortion at home.

गर्भ गिराने का तरीका  (anchahe garbh ko kaise hataye / अनचाहे गर्भ को कैसे हटाएं) | Abortion at home - गर्भावस्था या प्रेग्नेंसी हर महिला का सपना होता है।
सभी महिलाएं चाहती है कि वो एक स्वस्थ और सुंदर बच्चे की मां बने।
लेकिन कई बार ऐसे हालात फंस जाते हैं कि एक गर्भवती को अपना गर्भ गिराना पड़ता है।
ऐसे बहुत सारे कारण हैं जिनकी वजह से महिला अपना गर्भपात करवाती हैं जैसे -


  • महिला का बच्चे को जन्म देने के लिए मानसिक और शारीरिक रूप से तैयार न होना।
  • अयोजनित गर्भावस्था
  • गर्भावस्था के कारण मां को किसी प्रकार का खतरा होना।
  • असुरक्षित संबंध होना
जैसे कई ऐसे छोटे बड़े कारण हैं जिनकी वजह से एक महिला को अपना गर्भ गिराना पड़ता है।
इस लेख के अंदर हम आपको बताएंगे कि आप किस प्रकार दो से ढाई महीने तक के गर्भ को घर पर ही कैसे गिरा सकते हो।
गर्भ गिराने का नया बेस्ट तरीका (अनचाहा गर्भ) | abortion at home.
Garbh girane ka tarika.
सामान्यतः अगर गर्भपात या अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाने की बात की जाए तो यह समस्या बहुत जटिल हो सकती है।
क्योंकि अगर गर्भ या प्रेग्नेंसी 2 महीने तक कि है तो यह संभव है कि आप आसानी से उस अनचाहे गर्भ से छुटकारा पा सकते हो।
लेकिन दो महीने से ऊपर की प्रेग्नेंसी या गर्भ के लिए घर पर एबॉर्शन करना या MT पिल्स का प्रयोग करना गर्भवती के लिए घातक हो सकता है।
(और पढ़ें : प्रेगनेंट होने के बाद दिखेंगे ये 14 शुरुआती लक्षण)

गर्भ गिराने का नया आसान तरीका (अनचाहा गर्भ से कैसे छुटकारा पाएं) | Abortion at home.


आज हम आपको यहां गर्भ गिराने के कुछ आसान और असरदार घरेलू तरीके और नुस्खे बताने वाले हैं।
जिनका प्रयोग करके आप आसानी से अनचाहे गर्भ से छुटकारा पा सकते हो।
लेकिन उससे पहले आपको बहुत सी सावधानियां और कई बातों का ध्यान रखना होगा।
जो कि गर्भवती महिला के लिए बहुत ही जरूरी और उसके हित मे है।
महिला के गर्भाशय (यूटरस) में किसी भी प्रकार का इन्फेक्शन या संक्रमण हो।
महिला का स्वतः ही गर्भपात हो रहा हो।
तो इन सभी स्थितियों में किसी अच्छे चिकित्सक से ही गर्भपात करवाना सबसे बेहतर और सुरक्षित होता है।
और साथ ही गर्भ में होने वाली समस्या का समाधान भी हो जाता है।
(और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में क्या खाएं और क्या न खाएं)
इसके अलावा यदि किसी महिला का गर्भ दो या ढाई महीने से ऊपर का है, तो इसके लिए भी अस्पताल में किसी चिकित्सक से एबॉर्शन या गर्भपात करवाना सबसे सुरक्षित होता है।
अगर आप दो महीने से ऊपर के गर्भ के लिए घरेलू नुस्खे अपनाती हो, या किसी गर्भ निवारण दवा का प्रयोग करने वाली हैं, तो यह समझ लीजिए कि यह आपके लिए बहुत अधिक घातक सिद्ध हो सकता है।
जिसमे गर्भाशय का खराब होना, भविष्य में कभी गर्भ न ठहर पाना, बहुत अधिक रक्त का आना, रक्त का न रुक पाना, बहुत तेज पेट दर्द का होना, जैसे बहुत सारे घातक परिणाम हो सकते हैं।
अतः अगर गर्भ ज्यादा समय का है तो उसके लिए किसी भी प्रकार की गर्भनिवारक दवा (MT PILLS) या घरेलू नुस्खों का प्रयोग न करें।
गर्भ यदि 2, ढाई महीने या उससे कम का है तो यहां कुछ घरेलू उपाय बताए जा रहे हैं।
जिनका प्रयोग करके आप इस समस्या से निजात पा सकते हो।
(और पढ़ें : गर्भ निरोधक गोलियां और अचूक घरेलू नुस्खे)

गर्भ गिराने का तरीका (अनचाहा गर्भ से कैसे छुटकारा पाएं) | abortion at home.

यहां बताये जाने वाले सभी नुस्खे अक्सर गर्भपात के लिए महिलाओ द्वारा उपयोग में लाये जाते हैं।
जिनका परिणाम भी अचूक और बेहतर होता है।
साथ ही ये सभी नुस्खे सभी प्रकार से सुरक्षित हैं, और ना ही इनका कोई साइड इफ़ेक्ट है।
लेकिन फिर भी प्रत्येक महिला का शरीर अलग प्रकार का होता है।
और उनके शरीर मे गर्मी का स्तर और उसे सहन करने ताकत अलग अलग होती हैं।
अतः इन घरेलू नुस्खों का प्रयोग करने से पहले हो सके तो अपने डॉक्टर से जरूर सलाह लें।
उसके बाद ही इनका प्रयोग करें, ताकि आप हर सुरक्षित रह सके।
(और पढ़े : गर्भ गिराने का बेस्ट तरीका)
गर्भ गिराने का नया बेस्ट तरीका (अनचाहा गर्भ) | abortion at home.
Garbh girane ka tarika.

1. ब्लैक टी से गर्भ गिराने का तरीका -

ब्लैक टी का प्रयोग करके आप आसानी से गर्भपात कर सकते हो।
यह शरीर में बहुत अधिक गर्मी पैदा करती है जिसकी वजह से गर्भ गिर जाता है।

क्या चाहिए -

  1. 20 ग्राम चाय पत्ती
  2. 40 ग्राम पुराना गुड़
  3. 8 ग्राम लौंग
  4. 10 ग्राम सौंठ या अदरक
  5. 3 गिलास पानी

कैसे तैयार करें -

इसे तैयार करने के लिए सबसे पहले आपको तीन गिलास पानी चायदानी में लेकर गर्म करना होगा।
गर्म होने के बाद आप इसमें 20 ग्राम चाय पत्ती डाल दें।
जब यह उबलने लग जाये, तब इसमे सौंठ और लौंग को अच्छे से पीस कर डाल दें।
इसके बाद इसमें बताये अनुसार पुराने गुड़ को मिला दें, और अच्छे से तैयार होने दें।
उबलने के बाद जब यह एक कप की मात्रा में रह जाए इसके बाद इसे उतार कर छान लें।
(और पढ़ें : कमर दर्द का सबसे बेहतर इलाज)

कैसे इस्तेमाल करें -

टी को छानने के बाद इसे आप जितना गरम पी सकती हो, उतना गर्म पिये।
ऐसा दिन में तीन बार करें, यानी सुबह, दोपहर और शाम तीनो टाइम आपको इस तरह ब्लैक टी बनाकर पीनी है।
संभवतः आपको उसी दिन या रात को पीरियड्स शुरू हो जाएंगे।
पीरियड आने के बाद भी दो चार दिन तक इसका प्रयोग हल्की मात्रा में करते रहें।
जब तक कि आपका गर्भ पूरी तरह साफ न हो जाये।
पीरियड आने के बाद अधिक गर्मी की वजह से अगर पेट मे ज्यादा दर्द हो या पेशाब में जलन हो तो लौंग, चायपत्ती और गुड़ की मात्रा हल्की रखें या इसकी जगह पर गर्म दूध का ही प्रयोग करें।
साथ ही जब गर्भ पूरी तरह साफ हो जाये तब प्रेगनेंसी टेस्ट किट की सहायता से एक बार जरूर टेस्ट कर लें।
ताकि आप पूरी तरह निश्चित हो जाये कि अब कोई परेशानी नही है।

सावधानियां -

  • इस नुस्खे के दोहरान किसी भी प्रकार की ठंडी चीजों का प्रयोग न करें।
  • किसी प्रकार की चिकनाई युक्त खाद्य सामग्री का प्रयोग न करें और न ही खटाई से युक्त भोजन लें।
  • जब तक पीरियड स्टार्ट न हों तब तक बताई गई चीजों का प्रयोग इसी अनुपात में करें।
  • पीरियड आने के बाद इनका प्रयोग कम कर दें या इसके स्थान पर केवन गर्म दूध का ही प्रयोग करें।
  • इस नुस्खे का प्रयोग तब ही करें, जब आप गर्भपात के लिए पूरी तरह सुनिश्चित हों।

2. काले तिल से गर्भपात कैसे करें -
गर्भ गिराने का नया बेस्ट तरीका (अनचाहा गर्भ) | abortion at home.
Garbh girane ka tarika.

काले तिल का प्रयोग भी पुराने समय से ही अनचाहे गर्भ के निपटान के लिए किया जाता आ रहा है।
इसके प्रयोग से आपको बहुत जल्दी और प्रभावी परिणाम मिलता है।
इसी लिए जो महिलाएं गर्भवती होना चाहती हैं उन्हें काले तिल खाने के लिए सख्त मना की जाती है।

क्या चाहिए -

  1. काले तिल का पाउडर 2 चम्मच
  2. कलौंजी 1 चम्मच
  3. अजवाइन 1 चम्मच
  4. गुड 1 चम्मच
  5. कैसे बनाए -
सबसे पहले काले तिल, अजवाइन और कलौंजी को इसी मात्रा में लेकर हल्का सा भून कर एक पाउडर बना लें।
इसके बाद 1/2 लीटर पानी में इन्हे अच्छे से उबालें और ऊपर से गुड डाल दें।

कैसे इस्तेमाल करें -

जब यह काढ़ा आधा रह जाए तब हल्का गर्म ही इसका सेवन करें।
दिन में कम से कम तीन बार इस काढ़े का सेवन करें।
इसके लिए आप एक बार में भी इसे बनाकर रख सकते हो।
लेकिन जब भी आप इसका सेवन करें हल्का सा गर्म जरूर करें और गर्म ही इसका इस्तेमाल करें।
साथ ही गर्भ नीरोधन के लिए माहवारी के बाद पांच से सात दिन तक भूने हुए काले तिल का सेवन करने से गर्भ नहीं ठहरता है।
(और पढ़ें : तेजी से खून बढ़ाने के असरदार उपाय)

3. मेथीदाना है महिलाओं की तमाम समस्याओं का हल -

आप सभी मेथीदाना तो अच्छे से जानते ही होंगे यह भारतीय रसोई में लगभग सभी जगह मिल जाता है।
जिससे खाने में जायका आने के साथ साथ यह हमारे शरीर के लिए कई तरह से बेहद लाभकारी है।
देखिए मेथीदाना कई तरह के औषधीय गुणों से भरपूर होता है जो किसी भी तरह के दर्द चाहे जोड़ों का दर्द हो बदन दर्द के साथ यूरिक एसिड जैसी समस्याओं में भी लाभ देता है।
अगर कोई डायबिटक मरीज इसका इस्तेमाल करता है तो बेहद प्रभावी रूप से यह शुगर केवल कंट्रोल करता है।
इन सब के साथ साथ महिलाओं में जितने भी गुप्त रोग हैं उन तमाम समस्याओं में इसके चमत्कारी परिणाम देखें गए हैं।
चाहे कोई महिला श्वेत प्रदर या लिकोरिया से पीड़ित हो या अनियमित माहवारी से, चाहे माहवारी के समय असहनीय दर्द की समस्या हो या पीरियड खुल कर न आने की सभी में बेहद ही खूबसूरत तरीके से काम करता है।
इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि आप इससे अनचाही गर्भावस्था को भी आसानी से खत्म कर सकते हो।
अगर कोई महिला शुरुआती दिनों में अपनी गर्भावस्था को खत्म करना चाहती है या वह गलती से प्रेगनेंट हो चुकी है उससे छुटकारा पाना चाहती है तो मेथीदाना एक अचूक औषधि कही जा सकती है।

क्या चाहिए -

  • 1 चम्मच मेथीदाना
  • पानी 1 गिलास

कैसे तैयार करें -

इसे तैयार करने के लिए सबसे पहले रात को सोते समय एक गिलास पानी में एक चम्मच मेथीदाना डालकर भीगने के लिए छोड़ दें।
अब इसके बाद सुबह उठ कर फ्रेश होकर भीगे हुए मेथीदानों को चबा चबा कर खा लें और ऊपर से भिगोए हुए पानी को पी लें।
इसके अलावा आप मेथीदानों को मिक्सी में चला कर इनका ज्यूस बनाकर भी ले सकते हो।
इसके नियमित चार से पांच दिन सेवन करने से रुका हुआ मासिक धर्म शुरू हो जाता है।
सफेद पानी की समस्या से बहुत जल्दी छुटकारा मिलता है महिलाओं में होने वाली अनचाही गर्मी समाप्त होती है।
साथ ही अगर आपका गर्भ कम समय का है तो वह गर्भ भी निकल जाता है।
इसीलिए गर्भवती महिला को मेथीदाना खाने से परहेज़ रखने की सलाह दी जाती है।

4. बबूल के पत्ते से अबॉर्शन एट होम -

बबूल के पत्ते भी अनचाहे गर्भ को गिराने के लिए बहुत ही मशहूर हैं।
इनके कुछ दिनों तक नियमित प्रयोग से आप अनचाहे गर्भ को आसानी से समाप्त कर सकते हो।

क्या चाहिए -

  1. बबूल के पत्ते 20 से 30 ग्राम
  2. हल्दी 1/2 चम्मच
  3. अजवाइन 1/2 चम्मच

कैसे बनाएं -

इसे बनाने के लिए आपको सबसे पहले दो गिलास पानी लेकर गर्म करना है।
इसके बाद इसमें बबूल के पत्ते डाल दें।
जब बबूल के पत्ते जिसे लूम भी कहा जाता है अच्छे से पक जाए तब इसमें हल्दी और अजवाइन मिला दें।
यह जब आधी मात्रा में रह जाए तब इसे छान लें।

कैसे इस्तेमाल करें -

इसका इस्तेमाल भी आपको चाय की ही भांति गर्म ही करना है।
जितनी गर्म आप चाय पीते हो उतना ही गर्म इसे पिएं।
दिन में दो से तीन बार इसका सेवन करें निश्चय ही दो से तीन दिन में आपका गर्भपात हो जाएगा।
(और पढ़ें : लिकोरिया या सफेद पानी का अचूक इलाज)

5. हींग से प्रेग्नेंसी कैसे होती है -

अनचाहे गर्भ की समस्या को समाप्त करने के लिए आप हिंग का भी प्रयोग कर सकते हो।
इसके प्रयोग से आप गर्भ निरोधन भी कर सकते हो।
माहवारी या पीरियड्स के बाद पांच से सात दिन तक लगातार हींग का पानी बनाकर पीने से गर्भ ठहरने की समस्या खत्म हो जाती है।
अनचाहे गर्भ को गिराने के लिए गर्म पानी में हींग डालकर पिएं।
सुबह शाम इसका सेवन करते रहने से आपका गर्भपात हो जाएगा।
गर्भ गिराने का नया बेस्ट तरीका (अनचाहा गर्भ) | abortion at home.
Garbh girane ka tarika.

6. दालचीनी से अनचाहा गर्भ कैसे गीराएं -

दालचीनी का प्रयोग करके भी आप इस समस्या का निपटान कर सकते हो।
यह भी एक बहुत ही प्रभावी दवा है जो आपके गर्भ गर्मी पैदा कर ठहरे हुए गर्भ को निकाल देती है।

क्या चाहिए -

  1. दालचीनी एक चम्मच
  2. हल्दी पाउडर 1/2 चम्मच
  3. अदरक का रस एक चम्मच

कैसे तैयार करें -

इसे बनाने के लिए सबसे पहले एक से डेढ़ गिलास पानी गर्म करें।
इसके बाद इसमें दालचीनी मिक्स कर दें।
जब दालचीनी अपना रंग छोड़ दें तब आप इसमें हल्दी और अदरक मिक्स कर दें।
दो मिनट पकाकर इसे छान लें।

कैसे इस्तेमाल करें -

चाय की तरह इसे गर्म ही सिप सिप करके पिएं।
दिन में आप इसे दो से तीन बार जरूर लें।
बनाई गई इस चाय का इस्तेमाल आप इसमें पुदीना डाल कर अपना बढ़ा हुआ वजन घटाने, गोरा होने और शीघ्रपतन की समस्या को दूर करने के लिए भी कर सकते हो।
मोटापा, गोरा होने और शीघ्रपतन के लिए यह जादू की तरह काम करता है।
लेकिन इसमें गर्मी अधिक होने के कारण आप पुदीने का इस्तेमाल जरूर करें।
गर्भपात के लिए पुदीने का प्रयोग ना करें।
(और पढ़ें : गोरा होने के लिए सबसे बेस्ट उपाय)

7. ब्लैक कोहोस है गर्भपात का सबसे आसान तरीका -

ब्लैक कोहोस भी दक्षिणी देशों में गर्भ गिराने और गर्भ निरोधन के लिए इस्तेमाल की जाने वाली बहुत ही अच्छी औषधि है।
गर्भ निरोधक के रूप में आप इसका काढ़ा बनाकर या इसे उबालकर के सकते हो।
इससे आपका गर्भ ठहरने के बहुत ही कम चांस रहते हैं।
इसके नियमित प्रयोग से गर्भपात भी हो जाता है।

8. हल्दी और दूध से गर्भ गिराने का सबसे बेस्ट तरीका -

हल्दी वाला दूध भी गर्भपात करने के लिए एक बहुत ही अच्छी औसधि है।
जो एक से डेढ़ महीने के गर्भ को आसानी के साथ निकाल देता है।
अतः इसके लिए गर्म दूध में 1 चम्मच हल्दी डालकर दिन में तीनों टाइम पियें।
इससे अनचाहा गर्भ एक दो दिन में निकल जाएगा।
और गर्भपात होने के बाद भी कुछ दिनों तक इसका प्रयोग करते रहें।
(और पढ़ें : सफेद दाग का पक्का रामबाण इलाज)

9. गाजर के बीज है 2 महीने के अबॉर्शन की दवा -

गाजर के बीजों का प्रयोग भी अक्सर अनचाहे गर्भ को गिराने के लिए उपयोग में लिया जाता है।
गाजर के बीजों के अंदर बहुत अधिक गर्मी होती है, जो एक से डेढ़ महीने की गर्भवस्था को आसानी से खत्म कर देती है।
अतः इनका प्रयोग भी कोई भी महिला गर्भपात के लिए कर सकती है।

विधि -

इस नुस्खे को तैयार करने के लिए सबसे पहले आपको 10 ग्राम गाजर के बीजों को अच्छे से पीसना है और एक पावडर बनाना है।
इसके बाद आप इस पावडर का प्रयोग गर्म दूध के साथ या काली चाय में मिक्स करके इस्तेमाल कर सकते हो।
इसका प्रयोग भी आपको दिन में दो से तीन बार करना है, और माहवारी होने के बाद इसका प्रयोग बंद कर दें और सुबह शाम गर्म दूध का इस्तेमाल करें।

10. कच्चा पपीता से अनचाही प्रेग्नेंसी कैसे रोकें -


कच्चा पपीता भी गर्भपात के लिए बहुत ही उपयोगी है।
कई बार अनजाने में यदि कोई महिला अधिक मात्रा में पपीता खा लेती है, तो स्वतः ही उसका गर्भपात होने लग जाता है।
अतः आप कच्चे पपीते का अधिक सेवन करके अनचाहे गर्भ से छुटकारा पा सकती हैं।
अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाने के लिए दिन भर में कम से कम एक किलो ग्राम कच्चे पपीते का सेवन जरूर करें।
इसके नियमित प्रयोग से अनचाहा गर्भ पूरी तरह साफ हो जाएगा।
(और पढ़ें : हाइट बढ़ाने का गारंटीड तरीका)
गर्भ गिराने का नया बेस्ट तरीका (अनचाहा गर्भ) | abortion at home.
Garbh girane ka tarika.

11. गर्म पानी से करें गर्भ गिराने का उपाय -

कहा जाती है कि किसी भी गर्भवती महिला को गर्म पानी से नहीं नहाना चाहिए।
क्योंकि लगातार गर्म पानी से नहाते रहने की वजह से कई बार गर्भपात जैसे समस्याएं हो जाती हैं।
अगर कोई महिला गर्भपात चाहती है तो उसे गर्म पानी से जरूर नहाना चाहिए।
हो सके तो दिन में दो बार गर्म पानी से नहाए।
इससे अनचाहे गर्भ को समाप्त करने में मदद मिलेगी।

गर्भपात के दौरान रखी जाने वाली सावधानियां और जरूरी बातें -

  • बताए गए नुस्खों का प्रयोग तभी करें जब आप गर्भपात के लिए पूरी तरह सुनिश्चित हों।
  • ढाई से तीन महीने की गर्भावस्था को खत्म करने के लिए योग्य चिकित्सक की सलाह जरूर लें और हॉस्पिटल में ही गर्भपात करवाएं।
  • पाइनएप्पल, अंजीर, इलायची और विटामिन सी से भरपूर खाद्य गर्भ के लिए काल मानी जाते हैं। अतः इनका सेवन जरूर करें।
  • इन नुस्खों का प्रयोग करने के दौरान खूब उछल कूद करें।
  • गर्म तासीर वाली चीजें ज्यादा खाएं।
  • जब तक आपका गर्भ पूरी तरह साफ न हो जाये तब तक आपको खटाई, चिकनाई और ठंडी चीजों का प्रयोग बिल्कुल भी नही करना है।
  • शुरू में आपको गाढ़े कचरे के साथ तेज रक्त स्राव होगा, जो धीरे धीरे कम होता हुआ 7 से 8 दिन में बंद हो जाएगा।
  • लेकिन यदि 10 से 12 दिनों तक हल्का तेज रक्त स्राव रहे, तो उस स्थिति में किसी भी प्रकार की गर्मी की चीजों का प्रयोग ना करें और चिकित्सक से सलाह लें।
  • क्योंकि कई बार अधिक गर्मी के कारण गर्भाशय की रक्त वाहिनियां क्षतिग्रस्त हो जाती हैं।
  • रक्त वाहिनियों के क्षतिग्रस्त होने की स्थिति में दूध, चाय और कॉफी जैसी गर्म पेय पदार्थों का इस्तेमाल न करें।
  • साथ ही ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं तथा सौंप और काले भांगरे की पत्तियों का ज्यूस बनाकर पियें।
(और पढ़ें : शुगर (डायबिटीज़) का पक्का इलाज)

2 mahine Ka abortion, pregnancy ya garbhpat ke liye video -


Tags -
Garbh girane ka tka tarika, anchahe garbh se kaise chhutkara paye, Abortion at home, garbhpat kaise hota hai,

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें