अपनाएं आसान और सबसे बेस्ट डायबिटीज डायट चार्ट इन हिंदी।

Best (Sugar) Diabetes Diet chart in Hindi | बेस्ट डायबिटीज (शुगर) डायट चार्ट इन हिंदी - शुगर के मरीजों को अपना रक्त शर्करा सामान्य रखने के लिए नियमित रूप से योग प्राणायाम और अच्छा आहार लेने के साथ साथ कई तरह की सावधानियां बरतनी पड़ती हैं।
इन सब के अलावा रक्त शर्करा को नोर्मल रखने के लिए एक डायट प्लान बनाना भी बेहद जरूरी है।
डायबिटीज़ के मरीजों को चाहिए कि वे अपने खानपान और अपनी नियमित गतिविधियों में निश्चितता लाएं।
ताकि डायबिटीज़ या शुगल लेवल को सामान्य रखा जा सके और एक सुखद और स्वस्थ जीवन जिया जाए।
Diabetes diet chart in Hindi
डायबिटीज़ वाले व्यक्ति अपने हिसाब से अपनी सुविधा अनुसार खुद भी अपना डायट प्लान चुन सकते हैं।
लेकिन एक बात का जरूर ध्यान रखें कि अपने डायट प्लान में उन चीजों का बिल्कुल भी चुनाव ना करें जो किसी भी रूप में आपकी रक्त शर्करा को बढ़ावा देती हैं।
यहां हमने डायबिटीज़ के मरीजों के लिए एक डायट प्लान तैयार किया है आप चाहें तो इसे भी अपना सकते हो।
(और पढ़ें : डायबिटीज़ के लिए क्या खाना चाहिए)

Best (Sugar) Diabetes Diet chart in hindi | अपनाएं बेस्ट आहार सूची मधुमेह सामान्य रखने के लिए।

इस बात को सभी जानते हैं की वर्तमान समय में 10 लोगों में से 3 डायबिटीज के शिकार हैं।
जिसका मुख्या कारण है आजकल की लाइफ स्टाइल और खाने पीने जैसी जरुरी चीजें।
इस आधुनिक युग में हर तरह के आराम के साधन की उपलब्धि के साथ खाने पीने की नई नई चीजें उपलब्ध हैं।
जिनका सबसे बुरा प्रभाव सीधा आपके स्वास्थ पर पड़ता है।
तो इन्ही सब चीजों को लेकर हमने यह पोस्ट तैयार की है।
जिसमें हम आपको बताने वाले है डायबिटीज़ (sugar) डाइट चार्ट, और कुछ टिप्स जिनसे आप अपनी डायबिटीज को बहुत ही आसानी से नार्मल रख सकते हो।

शुगर/डायबिटीज के लिए बेहतर डायट चार्ट पढ़ें हिंदी में।

नियमित रूप से अपने बनाए हुए डायट प्लान को अच्छे से अपनाएं।
डायट प्लान बनाने के लिए सुबह, दोपहर और शाम को खाई जाने वाली डायट निश्चित करें।
(और पढ़ें : शुगर का सबसे बेस्ट इलाज)
Diabetes diet chart in hindi

1. सुबह का डायट प्लान - 

सुबह उठकर अपनी नित्य क्रिया से फ्री होकर अपने दिन की शुरुआत वाकिंग या हल्की दौड़ से करें।
इसके बाद नियमित रूप से योगा और प्राणायाम करें, क्योंकि अपनी दिनचर्या में योग और प्राणायाम को जगह देकर आप निश्चित रूप से डायबिटीज़ नाम की इस भयंकर बला को पछाड़ सकते हो।
योग प्राणायाम से फ्री होने के बाद एक ग्लास पानी में 1 चम्मच मेथी पावडर (Fenugreek powder) डालकर पियें।
इसकी जगह आप चाहो तो रात को मेथीदाना पानी में भिगोकर भी रख सकते हो, जिन्हें आप सुबह खाली पेट ही खाएं।
(और पढ़ें : शुगर के लिए सबसे बेहतर योगा)
30 - 40 मिनट के अंतराल के बाद एक कप शुगर फ्री चाय, साथ में शुगर फ्री बिस्किट खाएं ताकि आपका शरीर उर्जावान रहे।
डायबिटीज़ के मरीजों में यह समस्या आम होती है कि उनका शरीर हमेशा थका हुआ महसूस करता है अतः सुबह की शुगर फ्री चाय और बिस्किट जरूर लें।
नास्ते में सुबह एक कटोरी अंकुरित चने की दाल और एक गिलास बिना क्रीम वाला दूध पियें।
अंकुरित चने की दाल शुगर वाले मरीजों के लिए बेहद फायदेमंद होती है क्योंकि यह रक्त से शुगर का अवशोषण करने का काम करती है।

करीब 9 -10 बजे बिना शुगर वाले फल और सब्जियों के ज्यूस का इस्तेमाल करें।
कम/बिना शर्करा वाले फल जैसे - कीवी, चैरी, एप्पल, जामुन, नाशपाती आदि।
बिना शुगर वाली सब्जियां जैसे - करोंदा, ककोडा, करेला, लौकी, आंवला आदि।

2. दोपहर का डायट प्लान - 

दोपहर को खाने में चोकर वाले आटे की रोटी दाल,(lentils) दही,(curd) हरी सब्जी,(green vegetables) के साथ सलाद (salad) आदि खाएं।
इसके बाद 3 से 5 बजे के बीच एक बिना चीनी या शुगर फ्री चाय लें और साथ में शुगर फ्री बिस्किट या टोस्ट खाएं।
(और पढ़ें : शुगर के शुरुआती लक्षण)

3. शाम का डायट प्लान - 

शाम को खाने से 1 घंटे पहले 1 से 2 कप सूप लें और खाने में वही चोकर वाले आटे की रोटी दाल, सलाद, हरी सब्जी, कभी कभी चांवल आदि का भी इस्तेमाल कर सकते हो।
रात को डिनर के कुछ समय बाद या सोने से पहले एक से दो गिलास बिना शुगर वाला दूध पियें।
इन सब के अलावा आप शाम के समय हल्का योगा और प्राणायाम आदि भी कर सकते हो।
शुगर के मरीजों के लिए मंडूकासन, अनुलोम विलोम, कपालभांति, अग्निसार और भस्त्रिका प्राणायाम बहुत ही अच्छे ढंग से शर्करा को सामान्य रखते हैं।
लेकिन योगा शाम को खाली पेट ही करें इसका जरूर ध्यान रखें।
इसके अलावा कुछ आयुर्वेदिक औषधियां हैं जिन्हें आप अपने डायट प्लान में शामिल कर सकते हो।
एलोपैथिक दवाएं आपको उम्रभर खानी पड़ती हैं लेकिन आयुर्वेद अपनाकर आप आसानी से मधुमेह या डायबिटीज़ को जड़ से खत्म कर सकते हो।
हो सके तो आयुर्वेद जरूर अपनाएं इससे आपकी समस्या पूरी तरह खत्म हो जाएगी।
(और पढ़ें : पाइल्स का इलाज)

डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए टिप्स - (Diabetes (Sugar) diet tips in Hindi)

  1. एक ख़ास बात यह है की कभी भी मधुमेह के मरीज को उपवास नहीं करना चाहिए।
  2. इसके आलावा हमेशा यह ध्यान रखें की खाने के बीच में ज्यादा अंतराल ना हो हमेशा कुछ न कुछ खाते रहें इससे आपका पाचन और मेटाबोलिज्म सुचारु रहता है जिससे इन्सुलिन के उत्पादन में मदद मिलती है।
  3. साथ ही रोज योगा और प्राणायाम करके भी आप ब्लड शुगर नार्मल रख सकते हो।
  4. हल्का पिसा हुआ मेथी दाना (Fenugreek seed) एक चम्मच खाना खाने के 15 से 20 मिनट पहले लेने से डायबिटीज कंट्रोल में रहती है और इससे और भी कई अंगों को बेनिफिट होता हैं।
  5. रोटी के आटे को बिना चोकर निकाले प्रयोग में लें साथ ही चाहो तो इसकी गुणवत्ता बढ़ाने के लिए आप इसमें सोयाबीन का आटा मिला सकते हो।
  6. भुने हुए चने (Roasted gram) खाएं ये डायबिटीज को सोकने का काम करते हैं।
  7. जामुन (Blackberry) के फल और इसके पत्तों का इस्तेमाल जरूर करें ये भी आपकी डायबिटीज को नार्मल रखने का काम करते हैं।
  8. करेले (bitter gourd) की सब्जी और ज्यूस को अपने खाने में जरूर शामिल करें, इसमें डायबिटीज के खिलाफ लड़ने की बेहतर क्षमता होती है।
  9. घी (ghee) और तेल (oil) कम से कम ही खाएं।
  10. हरी पत्तेदार सब्जियां (green vegetables) ज्यादा से ज्यादा खाएं।
  11. शुगर के मरीज को खाने से लगभग 1 घंटा पहले वाकिंग जरूर करनी चाहिए।
  12. नियमित रूप से अपने शुगर लेवल की जांच जरूर करें।
  13. इंसुलिन और दवाएं ले रहे मरीजों को खाना अपने निश्चित समय पर ही खाना चाहिए क्योंकि इस दौरान असमय खाना खाने की वजह से आपमें हायपोग्लाइसीमिया हो सकता है।
  14. जिसकी वजह से कमजोरी,(weakness) अत्यधिक भूख लगना, हृदयगति तेज होना,(hypertension) झटके आना एवं गंभीर स्थिति होने पर कोमा में जाने जैसी विपत्ति का भी सामना करना पड़ सकता है।
(और पढ़ें : सफेद दाग का इलाज)

अन्य जरूरी सावधानियां -

  • एक बार में ही पेट भर खाने की बजाय छोटे छोटे मील लें या टुकड़ों में भोजन करें, ताकि मेटाबॉलिज्म अच्छा हो और शुगर को नोर्मल रखा जा सके।
  • अपने वजन (obasity) को कंट्रोल में रखें, क्योंकि मोटापा भी बढ़ती डायबिटीज़ का सहायक या कारक हो सकता है। आपके अंदर जितनी अधिक चर्बी होगी शुगर को सामान्य रखना उतना ही मुश्किल होगा।
  • कम कैलोरी वाला भोजन खाएं जैसे - छिलके वाला भुना चना, परमल, अंकुरित अनाज, सूप, सलाद आदि का ज्यादा खाएं।
  • डेरी उत्पाद जैसे दही और छाछ का यूज करने से शुगर लेवल कम होता है और डायबिटीज कंट्रोल में रहती है।
  • मांसाहारी और तले गले खाने से परहेज़ रखें क्योंकि आपकी रक्त शर्करा को बढ़ाने के लिए ये बढ़े कारण बन सकते हैं।
  • चॉकलेट, कोल्ड्रिंक्स, चीनी से बने खाद्य, ज्यूस और शर्बत पीने से बचें।

Tags -

डायबिटीज डायट चार्ट इन हिंदी,
(Sugar) Diabetes diet in Hindi,
diabetes (Sugar) diet chart in Hindi,
शुगर या डायबिटीज़ डायट इन हिंदी,

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें